120+ Sadhguru Quotes In Hindi | सद्गुरु के अनमोल विचार

Sadhguru Quotes In Hindi: आज के इस लेख में आपके लिए सद्गुरु के अनमोल विचार लेके आए है। इस तरह की सद्गुरु के अनमोल विचार आपको मिलना मुश्किल है। आप यह लेख अपने मित्रो के साथ साझा कर सकते हैं।

Sadhguru Quotes In Hindi

sadhguru quotes in hindi

ख़ुशी, शांति और प्रेम ये कोई आध्यात्मिक लक्ष्य नहीं हैं,
यह सब तो समझदारीपूर्वक जीने की शुरुआत है।

कितना अच्छा होता अगर ये दुनिया छोटे बच्चों द्वारा चलायी जाती,
क्योंकि वे किसी और की तुलना में जीवन के ज्यादा करीब होते हैं।

ये मत सोचो कि आपका पैसा, रिश्ते, या परिवार आपके लिए को बीमाँ हैं,
बल्कि यह जानना की स्वयं को सभी स्तरों पर अच्छे से कैसे रखे,
आपके लिए सिर्फ यहीं बिमा हैं और यहीं योग हैं।

यदि आप अपने जीवन के लक्ष्य को पाने की जल्दी नहीं दिखते हैं,
तो जो आपके पास होता है, वो भी दूर हो जाता है|

आत्म-ज्ञान का मतलब यह एहसास होना है,
कि आप अब तक कितने बड़े मूर्ख थे,
हर चीज यहीं ठीक आपके भीतर थी,
और आपको इसका पता न था।

ये दुखो का अथाह सागर है,
इससे केवल वो ही व्यक्ति पार कर सकता है,
जिसने अपने जीवन को दुसरे के भले के लिए खर्च किया हो,
और वो भला भी केवल निस्वार्थ भाव से ही होना चाहिए।

मुझे समझ नहीं आता कि,
लोग अपने दिमाग को नियंत्रित क्यों करना चाहते हैं,
मैं चाहता हूँ कि वे अपने दिमाग को आज़ाद कर दें।

जब आप ध्यान में उतरने लगते है,
तो संगीत का माधुर्य स्वाभाविक रूप से,
आपके जीवन का हिस्सा बन जाता है,
हर चीज स्पंदन है।

Thought Sadhguru Quotes in Hindi

अगर आप उन सब जीवित चीजों के प्रति,
भरपूर कृतज्ञता के साथ भोजन करते हैं,
जिन्होंने आपके जीवन को कायम रखने के लिए,
अपने जीवन का बलिदान किया है,
तब जो भोजन आप करते हैं,
वो आपके भीतर बहुत अलग तरह से बर्ताव करेगा।

आपके पास कोई योजना है ये अच्छी बात है,
लेकिन आपके पास किसी मकसद का होना ज्यादा महत्वपूर्ण है,
अगर आपके पास कोई मकसद है,
तो योजनाए खुद-ब-खुद बनेगी और जाहिर होंगी।

जीवन में जब कुछ गड़बड़ होता है,
तभी पता चलता है कि आप कौन हैं,
जब सबकुछ बढ़िया चल रहा हो,
तो हर कोई शानदार होने का दिखावा कर सकता है ।

संपत्ति को अपनी भलाई में बदलने के लिए,
आपको आध्यात्मिक तत्व की आवश्यकता होगी,
उसके बिना, आपकी सफलता आपके खिलाफ काम करेगी।

पानी की अपनी याद्दाश्त है,
आप इसके साथ कैसे पेश आते हैं,
किस तरह के विचार और भावनाएं पैदा करते हैं,
उसी के मुताबिक वो आपके शरीर में व्यवहार करता है।

प्रकृति के प्रति जागृत होना,
अगर आप नहीं सिखते तो प्रकृति आपको बहोत कृरता से सिखायेगी।

डर केवल इसलिए है क्योकि,
आप वो ज़िन्दगी नहीं जी रहे हैं,
जो आपके दिमाग में है।

Positive Sadhguru Quotes Hindi

अगर आप अपनी लाइफ उन चीजों में नहीं लगाते हैं,
जिनकी आप सच में फिक्र करते हैं,
तो आपकी लाइफ बर्बाद हो जाएगी,
आप उड़ेंगे नहीं-आप लाइफ में बस खुद को घसीटेंगे।

दुनिया में जो हो रहा है अगर वह आपके मन मुताबिक नहीं हो रहा है,
तो आप के भीतर जो हो रहा है,
कम से कम उसे तो आपके मन मुताबिक होना चाहिए।

तर्क से परे एक आयाम है,
जब तक आप वहां नहीं पहुंच जाते,
आप ना तो प्रेम की मधुरता,
ना ही ईश्वर को जान पाएंगे।

आक्रोश, क्रोध, ईर्ष्या, दर्द, चोट, और अवसाद ऐसे जहर हैं,
जो आप पीते है, लेकिन किसी और के मरने की उम्मीद करते हैं,
जीवन इस तरह से काम नहीं करता है,
अधिकतर लोग इस सरल सत्य को समझने के लिए पूरा जीवन लगा देते है।

इंसान होने का अर्थ यह जानना है,
कि अपने अंदर किस तरह से होना है,
आपके होने का तरीका,
किसी व्यक्ति या चीज के द्वारा तय नहीं किया जाना चाहिए।

आत्मा, स्वर्ग या भगवान के बारे में बातें मत करो,
किसी ऐसी चीज के बारे में बात करना हो,
आपके वास्तविकता ना हो झूठ के बराबर है।

अधूरापन और अपूर्णता की भावना ही जलन और इर्ष्या की बुनियादी प्रकृति हैं,
अगर आप वाकई आनंद में हैं, तो आपको किसी से कोई इर्ष्या नहीं होगीं।

जीवन में जो भी आपका लक्ष्य है,
जब तक आप उसे पाने की जल्दी नहीं दिखाते,
जो करीब हो सकता है वो दूर हो जाएगा।

Bhagavad Gita Sadhguru Quotes in Hindi

हम जो करते हैं उसके कारण हमारा जीवन सुंदर नहीं बन जाता है,
हमारा जीवन केवल इसलिए सुंदर हो जाता है,
क्योंकि हमने अपने आसपास के हर व्यक्ति को,
अपने सपने के एक हिस्से के रूप में शामिल किया है।

एक इंसान एक बीज की तरह है,
जिसे आप वैसा रख सकते है जैसा वह है,
या फिर आप उसे फूलों और फलों से लदे हुए,
एक अदभुत पेड़ के रूप में विकसित कर सकते है।

में तुम को बदल देना चाहता हूँ,
यह क्रांति नहीं है,
में बदलना चाहता हूँ,
यह क्रांति है।

बुद्धि जो याददाश्त के आधार पर काम करती हैं,
वह एक शानदार और अलौकिक साधन हैं,
लेकिन यह केवल जानकारी से हासिल हो सकती हैं,
यह रूपांतरित नहीं हो सकती।

ईमानदार एक्शन के बारे में नहीं बल्कि उद्देश्य के बारे में सोचते हैं,
क्या आप इसे सबकी भलाई के लिए कर रहे हैं या अपने फायदे के लिए ?

हर चीज को ऐसे देखना जैसी कि वो है,
वह आपको जीवन को सहजता से जीने की शक्ति और क्षमता देता है।

हमें और हिन्दू और क्रिश्चन या और मुसलमान नहीं चाहिएं,
हमें और बुद्ध और जीसस और कृष्ण चाहिएं,
तब असल बदलाव आएगा,
हर मनुष्य में वो आंतरिक क्षमता है।

अपने आस पास के लोगो से हम दो तरह पेश आ सकते है,
पहला उनके साथ समाज सरकार की बुराई कर सकते है,
दूसरा उनको साथ लेकर एक नए समाज का निर्माण कर सकते है।

इंसान होने का मतलब है,
कि उस हर प्राणी और हर चीज,
जिसके संपर्क में आप जाते है,
उसके लिए सचेतन रूप से,
जो भी उत्तम हो सके वो करे।

अगर खुशी के आंसुओं ने, प्रेम के आंसुओं ने,
परमानंद के आंसुओं ने आपके गालों को नहीं धोया है,
तो आपने अभी तक जीवन का अनुभव नहीं किया है।

Sadhguru Quotes On Life in Hindi

ब्रह्मांड के विस्तार में, सब कुछ सही चल रहा है,
लेकिन आपके मन में आया एक जरा सा बुरा विचार पूरा दिन खराब कर देता है,
यह परिप्रेक्ष्य का अभाव है।

आप कितने सफल हैं,यह वास्तव में इस पर निर्भर करता हैं,
कि आप अपने शरीर और मन को कितने अच्छे तरीके से इस्तेमाल कर सकते हैं।

अधिकतर योगाभ्यास ऊर्जा-शरीर पर काम करते है,
क्युकि अगर आपका ऊर्जा-शरीर पूरी,
जीवंतता और समुचित संतुलन में है,
तो स्वाभाविक रूप से शारीरिक और मानसिक स्वास्थ अच्छा रहेगा।

जब दर्द, दुख या फिर गुस्सा आता है,
तो यह आपके भीतर देखने का समय होता है,
आपके आसपास नहीं।

यहा इस संसार में जीना और किसी को जीवन देने में बहुत अधिक फर्क है,
यदि आप ऐसा करते है ,
तब वास्तव में आप असली सुख की प्राप्ति कर रहे हो।

आप इस ब्रह्माण्ड में धूल के बस एक कण की तरह हैं,
अगर आप अपने अस्तित्व का संदर्भ को समझ जाते हैं,
तो आप स्वाभाविक रूप से शांत हो जाएंगे।

ज्यादातर लोग पंछी की तरह पिंजरे में रहते हैं,
पिंजरे का दरवाजा तो खुला है,
लेकिन वह पिंजरे में इतने व्यस्त हैं,
की कोई और संभावना उन्हें दिखती नही।

अपने प्रेम, अपनी खुशी और अपने उल्लास को रोककर मत रखें,
आप जो देते हैं, वही आपका गुण बन जाता है,
न कि वह जो आप रोक कर रखते हैं।

ध्यान करने से जब आपको यह अहसास होता है,
कि आपकी कई सारी सीमाएं हैं,
और वो सब स्वयं आपकी बनाई हुई हैं,
तभी आपके अंदर उन्हे तोड़ने की चाहत पैदा होगी।

ज्यादातर लोग पिंजड़े में कैद एक चिड़िया की तरह होते हैं,
जिसका दरवाजा टूटा हो,
वे आदतन पिंजड़े को गोल्ड प्लेट करने में बहुत व्यस्त हैं,
वे परम संभावनाओं तक नहीं जाते।

यदि कोई जरुरत से ज्यादा खाये,
और कोई बुखा रहे,
तो इसे में अनर्थ बोलता हूँ।

गलत खेती के तरीकों से,
हम उपजाऊ जमीन को रेगिस्तान में बदल रहे हैं,
जब तक हम वापस जैविक खेती की ओर नहीं लौटते,
और मिटटी को नही बचाते, तब तक कोई भविष्य नहीं है।

दुनिया में ज्यादातर लोग असल में व्यस्त नहीं है,
वह बस चिंता में खोए रहते हैं और यही चीज थकाने वाली होती है।

ये बात युवाओं को याद रखनी चाहिए,
जल्दी जीने की कोशिश मत कीजिए,
जीने का समय आयेगा,
अगर आप अच्छी तरह जीना चाहते है तो,
सबसे पहले आप अपने आप को पूरी तरह विकसित कीजिये।

एक इंसान के भीतर विरोधाभास सिर्फ इसलिए है,
क्योंकि वह उन चीजों का मानसिक रूप से,
पता लगाने की कोशिश कर रहा है जो उसने अनुभव नहीं की हैं।

डर का मतलब है कि आप किसी ऐसी चीज को लेकर दुखी हो रहे है,
जो शायद भविष्य में हो या हो ही नहीं,
यह अपनी यादाश्त, वर्तमान अनुभव,
और अपनी कल्पना को गुथने का नतीजा है।

हमें और हिन्दू, और क्रिश्चन,
या और मुसलमान नहीं चाहिएं- हमें और बुद्ध,
और जीसस, और और कृष्ण चाहिएं,
तब असल बदलाव आएगा,
हर मनुष्य में वो आंतरिक क्षमता है।

गर आपको आज बुरा महसूस हो रहा है,
तो सबसे पहले अपने अंदर देखना होगा,
कि आप क्या गलत कर रहे हो।

मेरे लिए यह जीवन लोगों को उनकी दिव्यता का अनुभव कराने और,
उसे व्यक्त करने में उनकी मदद करने का एक प्रयत्न है,
मेरी कामना है कि तुम इस दिव्य आनन्द को जानो।

उम्मीद करते है की, आपको यह हमारा सद्गुरु के अनमोल विचार आपको जरूर पसंद आया होगा। आप हमारा यह लेख अपने मित्रो के साथ साझा कर सकते है, और हमें कमेंट में बता सकते है आपको हमारा यह लेख कैसा लगा।

sadhguru quotes in hindi
sadhguru quotes hindi
sadhguru hindi quotes
thought sadhguru quotes in hindi
positive sadhguru quotes hindi
bhagavad gita sadhguru quotes in hindi
sadhguru quotes on life in hindi

Leave a Comment