150+ Mohabbat Shayari in Hindi | इश्क मोहब्बत शायरी

Mohabbat Shayari (मोहब्बत शायरी): हम आप के लिए सच्ची अनकही मोहब्बत शायरी 2 लाइन में लेके आये है। इस तरह की जबरदस्त इश्क मोहब्बत की शायरी आपको और कही नहीं मिलेगी। आशा करते है की बेस्ट खूबसूरत दोस्ती मोहब्बत शायरी आपको जरूर पसंद आएगी।

Mohabbat Shayari

meri mohabbat shayari in hindi

दिल की हसरत जुबां पे आने लगी,
तूने देखा और ज़िन्दगी मुस्कुराने लगी,
ये इश्क की इंतेहा थी, या दीवानगी मेरी,
हर सूरत में तेरी सूरत नजर आने लगी।

sad mohabbat shayari

जब हमने उनसे पूछा की सपना क्या होता है,
तो उन्होंने कहा बंद आँखों में जो अपना होता है,
खुली आँखों में वही सपना होता है।

mohabbat shayari 2 lines

बादलों से ज्यादा हमारे आंखें बरसती है,
बारिश से ज्यादा तेरी मोहब्बत बरसती है।

famous mohabbat shayari

किसी के प्यार को पा लेना ही मोहब्बत नहीं होती है,
किसी के दूर रहने पर उसको
पल-पल याद करना भी मोहब्बत होती है।

purani mohabbat shayari

मेरा हक नहीं है तुझपे पर मैं जानता हूं,
फिर भी ना जाने क्यों मैं तुझको दुआओं में मांगता हूं।

Mohabbat Romantic Shayari

pyar mohabbat shayari

तेरी मोहब्बत में एक अजब सा नशा है,
तभी तो सारी दुनिया तुझपे फ़िदा है।

mohabbat shayari

इश्क़ वही है जो एक तरफ़ा हो,
इज़हार ऐ इश्क़ तो ख्वाहिश बन जाती है,
है अगर इश्क़ तो आँखों में देखो,
जुबां खोलने से ये नुमाइश बन जाती है।

mohabbat romantic shayari

इश्क़ छुपता नहीं छुपाने से,
तेरा आशिक़ हूँ मैं ज़माने से,
रोकना मुझको पास आने से,
जान जाती है तेरे जाने से।

mohabbat bhari shayari

की अंधेरों से प्यार नहीं उसे,
रोशनी का वो मोहताज़ है,
और झुक जाता है वो अक्सर,
क्योंकि उसे रिश्तों से बड़ा प्यार है।

khuda aur mohabbat shayari

बहुत खूबसूरत है आँखें तुम्हारी,
इन्हें बना दो किस्मत हमारी,
हमें नहीं चाहिये ज़माने की खुशियाँ,
अगर मिल जाए हमें मोहब्बत तुम्हारी।

Mohabbat Bhari Shayari

sachi mohabbat shayari

छोटा सा एक पल ज़िन्दगी का हिस्सा बन जाता है,
न जाने कब कौन राहों का हिस्सा बन जाता है,
कुछ लोग ज़िन्दगी में ऐसे मिलते हैं,
जिनके साथ कभी ना टूटने वाला रिश्ता बन जाता है।

जो चाहा है वो पाया है
अब बस तुझको पाना बाकी है,
पागलों की तरह चाहना तुझे
अभी मुझको चाहना बाकी है,
जो भी चाहा था सब मिला है जिंदगी में
अब बस मेरी जिंदगी में तेरा आना बाकी है।

ek tarfa mohabbat shayari

क्या ख़ूब कहा हैं किसी ने,
जिस मोहब्बत का जवाब न आए वो इश्क़ हो जाऊँ,
अपने होठों से मुझको चख तो जरा,
मैं भी शायद शराब हो जाऊँ।

ishq mohabbat shayari

तुम रूठ जाओ मुझसे, ऐसा कभी न करना,
मैं एक नजर को तरसू, ऐसा कभी न करना।

हर मर्ज का इलाज मिलता था उस बाजार में,
मैंने मोहब्बत का नाम क्या लिया,
तमाम दवाखाने बन्द हो गये।

Pyar Mohabbat Shayari

rooh se mohabbat shayari

करने तबाह मोहब्बत के बहाने ले गया,
एक परिंदा आकर मेरी उड़ाने ले गया,
कल गली से उनकी गुज़रे तो लगा,
कोई आकर मोहब्बत के ज़माने ले गया।

bepanah mohabbat shayari

कोई ताबीज़ ऐसा दो कि मै चालाक हो जाऊं,
तेरी मोहब्बत की चाहत में मै बेखौफ्फ़ हो जाऊं।

अब तो शायद ही मुझसे मोहब्बत करे कोई,
मेरी आँखों में अब तुम साफ नजर आने लगे हो।

लरजते आंसुओं की कहानी है मोहब्बत,
बरसती आँखों की जुबानी है मोहब्बत,
पास रह के भी दूर रहती है वो मुझसे,
बहुत महकते फूलों की रातरानी है मोहब्बत।

अपने होठों पर सजा कर तुझे मैं,
तेरे ही गीत गाना चाहता हूँ,
जल कर बुझ जाना हमारी किस्मत में सही,
बस एक बार रोशन हो जाना चाहता हूँ।

Khuda Aur Mohabbat Shayari

mohabbat sacha pyar shayari

दूर रहकर भी मेरे क़रीब हो तुम,
मेरे दिल से पूछो कितने अज़ीज़ हो तुम,
अपनी हथेली को कभी गौर से देखना,
खुद जान जाओगे कि मेरा नसीब हो तुम।

कौन है मेरी तकदीर मैं, मैं हूं किसका यहाँ,
कोरे कागज की हकीकत कोई बताता नही यहाँ!

चलो अपनी चाहतें नीलाम करते हैं,
मोहब्बत का सौदा सरे आम करते है,
तुम अपना साथ हमारे नाम कर दो,
हम अपनी साऱी ज़िन्दगी तुम्हारे नाम करते हैं।

उतर चुके हैं इस कदर, अब कोई भाता कहाँ है,
तेरी मोहब्बत और मेरा दर्द, कोई समझ पाता कहाँ है।

mohabbat nafrat shayari

सजदे दिल के तराने बहुत हैं,
ज़िंदगी जीने के बहाने बहुत हैं,
आप सदा मुस्कुराते रहना,
आपकी मुस्कुराहट के दीवाने बहुत हैं।

Sachi Mohabbat Shayari

अगर तुम्हे पा लेना ही मोहब्बत थी,
तो शायद मैंने मोहब्बत की ही नहीं थी,
तुम्हे इसलिए तो जाने दिया बेवफा सनम,
क्योंकि मुझे तो सिर्फ तुम्हारी ख़ुशी चाहिए थी।

true love mohabbat shayari urdu

उदास कभी मत हुआ करो हमसे, मना नहीं पाएंगे
आपकी वो कीमत हैं हमारी ज़िन्दगी में,
की शायद कभी हम अदा नहीं कर पाएंगे।

आखिर ये इतनी उलझने क्यों हैं,
मोहब्बत अगर ज़िंदगी है, तो इसमें कसमें क्यों हैं,
कोई बताता क्यों नहीं हमे ये राज की
धड़कन अगर अपनी है, तो किसी और के बस में क्यों है।

हम उम्मीदों की दुनिया बसाते रहे,
वो भी पल-पल हमें आजमाते रहे,
जब मोहब्बत में मरने का वक्त आया,
हम मर गए और वो हमें देख मुस्कुराते रहे।

मुझको ढूँढोगे तो मेरे निशाँ तक न पाओगे,
तुम अपने दिल से पूछ लेना मेरा पता क्या है.!

Sad Mohabbat Shayari

इतना आसान नहीं है मेरे ग़म को समझ पाना,
हम टूटे हुए भी पूरे नज़र आते हैं।

हम देखेंगे रात बनकर,
तुम चाँद बनकर रहना,
किसी रोज तुम न निकलो,
ऐसा हमारे साथ कभी न करना।

बहते अश्कों की ज़ुबान नहीं होती,
लफ़्ज़ों में मोहब्बत बयान नही होती,
मिले जो प्यार तो कदर करना सीखो,
किस्मत हर किसी पर मेहरबान नहीं होती।

सोचते है की अब हम भी सीख ले यारों बेरुखी करना,
सबको मोहब्बत देते-देते हमने अपनी कदर खो दी हैं।

जाने कब उतरेगा कर्ज उसकी मोहब्बत का,
हर रोज अपने आँसुओं से इश्क की किश्ते भरता हूँ।

Mohabbat Shayari 2 Lines

वो मौत भी बडी हसीन होगी,
जो तेरी बाँहों मे आनी होगी,
वादा रहा, तुझसे पहले हम मर जायेंगे,
क्योंकि तेरे लिये जऩ्नत भी सजानी होगी।

छू गया जब कभी ख्याल तेरा,
दिल मेरा देर तक धड़कता रहा,
कल तेरा ज़िक्र छिड़ गया घर में,
और घर देर तक महकता रहा!!

ना हीरों की तमन्ना है और ना परियों पे मरता हूँ,
वो एक ‘भोली’ सी लडकी हे, जिसे मैं मोहब्बत करता हूँ।

उसने मोहब्बत, मोहब्बत से ज्यादा की थी,
हमने मोहब्बत उससे भी ज्यादा की थी,
अब वो किसे कहेंगे मोहब्बत की इन्तेहाँ,
हमने शुरुआत ही इन्तेहाँ से ज्यादा की थी।

ये मत कहना कि तेरी याद से रिश्ता नहीं रखा,
मैं खुद तन्हा रहा मगर दिल को तन्हा नहीं रखा,
तुम्हारी चाहतों के फूल तो महफूज़ रखे हैं,
तुम्हारी नफरतों की पीर को ज़िंदा नहीं रखा।

मोहब्बत का इन्तेहाँ आसान नहीं,
प्यार सिर्फ पाने का नाम नहीं,
मुद्दतें बीत जाती हैं किसी के इंतज़ार में,
ये सिर्फ पल-दो-पल का काम नहीं।

में पल-दो-पल का शायर हूँ,
पल-दो-पल मेरी कहानी हैं,
पल-दो-पल मेरी हस्ती है,
पल-दो-पल मेरी जवानी हैं।

खुदा करे कि एक ऐसा दिन आए,
हम तुम्हारी बाहों में खो जाएँ,
सिर्फ हम हो और तुम हो,
और समय वही सो जाए।

आपकी हर अदा मेरे लिए खास है,
शायद यही पहले प्यार का एहसास है!

मोहब्बत के गीत अब जुबां पर आने लगे,
उनके ख्वाब अब मुझे दिन रात सताए लगे!

बस रिश्ता ही तो टूटा है हमारे बीच,
मोहब्बत तो आज भी हमे उनसे ही है।

सुना था, मोहब्बत मिलती है मोहब्बत के बदले,
हमारी बारी आई तो, रिवाज हि बदल गया।

तुम कहो तो तुमको तुमसे चुरा लूँ,
वक़्त को रोक कर एक दिल चुरा लूँ,
गर पास हो तुम तो ये रात चुरा लूँ,
गर साथ हो तुम तो सारा जहाँ चुरा लूँ।

वो कहते है मुझे इश्क़-ए-जुनून है,
मैं कहता हूँ मुझे इश्क़-ए-इबादत है,
वो कहते है की मैं इज़हार नही करता,
मैं कहता हूँ मैं इश्क़ को सरे-आम नही करता।

बड़े सालो से इंतज़ार है,
की वो आये और कह दे,
कि मुझे तुमसे प्यार है।

एक हसरत है कि कभी वो भी हमे मनाये,
पर ये कम्ब्खत दिल कभी उनसे रूठता ही नही।

जिस्म से रूह तक जाए तो हकीकत है इश्क,
और रूह से रूह तक जाए तो इबादत है इश्क़।

आपके आने से ज़िन्दगी कितनी खूबसूरत है,
दिल में बसाई है जो वो आपकी ही सूरत है,
दूर जाना नहीं हमसे कभी भूलकर भी,
हमे हर कदम पर आपकी ही ज़रूरत है।

चुपके से आकर इस दिल में उतर जाते हो,
सांसों में मेरी खुशबु बनके बिखर जाते हो,
कुछ यूँ चला है तेरे इश्क का जादू,
सोते-जागते तुम ही तुम नज़र आते हो।

वादों से बंधी जंजीर थी जो तोड दी मैँने,
अब से जल्दी सोया करेंगे हम ,
क्योंकि उनसे मोहब्बत करना छोड दी मैँने।

अच्छा लगता है तुम्हारे लफ्जों में खुद को ढूँढना,
इतराती हूँ, मुस्कुराती हूँ, और तुममें ढल सी जाती हूँ।

कितना प्यार है इस दिल में तेरे लिए,
अगर बयां कर दिया तो, तू नहीं
ये दुनिया मेरी दिवानी हो जायेगी।

वो वक़्त, वो लम्हे कुछ अजीब होंगे,
दुनिया में हम खुश नसीब होंगे,
दूर से जब इतना याद करते है आपको,
क्या होगा जब आप हमारे करीब होंगे!

किसी को फूलों से मोहब्बत है,
तो किसी को काँटों से मोहब्बत है,
हम तो बस उनसे मोहब्बत करते हैं,
जिन्हे हमसे मोहब्बत है।

महफ़िल से उठ जाने वालो,
तुम लोगों पर क्या इल्ज़ाम,
तुम आबाद घरों के वासी,
मैं आवारा और बदनाम।

तुम्हारी आँखों की गहराई में खो जाना चाहता हूँ,
मैं तुम्हे अपनी बाहों में भर कर सो जाना चाहता हूँ।

मोहब्बत के गीत जुबां पर आने लगे,
अब उनके ख्वाब दिन रात सताने लगें।

ज़ख्म देकर ना पूछा करो, दर्द की शिद्दत,
दर्द तो दर्द ही है, थोड़ा क्या, ज़्यादा क्या।

सिलसिला चाहत का दोनों ही तरफ जारी हैं,
आप हमारी जान चाहते थे,
और हमें आप हमारे जान से भी प्यारी हैं।

बड़े शौक से बनाया तुमने मेरे दिल को अपना घर,
जब रहने की बारी आयी तो तुमने अपना ठिकाना बदल दिया।

तुम जो कहती हो की मुझे तुम अच्छे लगते हो,
मुझे तुम्हारे होंठो से सुनना अच्छा लगता है,
मुझे अपनी आँखों मे क़ैद कर लो तुम,
तुम्हारी यादों मे आना-जाना अच्छा लगता है।

हर फूल की अजब ग़ज़ब कहानी है,
चुप रहना भी प्यार की एक निशानी है,
ज़ख़्म नही है फिर भी क्यों ये एहसास है,
लगता है दिल का एक टुकड़ा आज भी उसके पास है।

बहुत वक़्त लगा हमें आप तक आने में,
बहुत फरियाद की खुदा से आपको पाने में,
कभी तुम यह दिल तोड़कर मत जाना,
हमने उम्र लगा दी आप जैसा सनम पाने में।

कुछ अन्य शायरी: