150+ Maut Shayari | मौत पर शायरी

Maut Shayari: आज के इस लेख में आपके लिए मौत पर शायरी लेके आए है। इस तरह की मौत पर शायरी आपको मिलना मुश्किल है। आप यह लेख अपने मित्रो के साथ साझा कर सकते हैं।

Maut Shayari

maut shayari

हर एक पल इस कदर जिया करो ज़िन्दगी को,
की मौत भी आ जाये तो शिकवा न हो ज़िन्दगी को।

वो ढूंढ रहे थे हमें शायद उन्हें हमारी तलाश थी,
पर जहाँ वो खड़े थे वही दफ़न हमारी लाश थी।

धरती के गम छुपाने के लिए गगन होता है,
दिल के गम छुपाने के लिए बदन होता है,
मर के भी छुपाने होंगे गम शायद,
इसलिए हर लाश पर कफ़न होता है।

जब मैं खुद से ज्यादा उसको चाहने लगी हूँ,
तो वो मुझे छोड़ कर जाना चाहता है,
मेरी ज़िंदगी हसीन बनाने के सपने दिखाकर,
अब मुझे जीते जी मार जाना चाहता है।

अब तक हम मुरीद रहे हैं जिनके,
उन्होने चेहरा तक ना दिखलाया,
उनके प्यार में हमारी जान निकल जाएगी,
डर है की मौत के बाद भी अगर वो फिर याद आया।

क्या कहूँ तुझे ख्वाब कहूँ तो टूट जायेगा,
दिल कहूँ तो बिखर जायेगा,
आ तेरा नाम जिन्दगी रख दूँ,
मौत से पहले तो तेरा साथ छूट न पायेगा।

कई गम के बादल अभी उठाने है,
हर बार नए खंजर तुम्हें आजमाने है,
इस तरह नहीं मरेंगे हम मेरे हम दर्द,
दम निकालने के और भी कई बहाने हैं।

Maut Shayari in Hindi

वो दूर हो जाए तो ऐसा लगता है खुद में हम नहीं,
बिछड़ जाना उसका मौत से कम नहीं,
वो मिल जाए वापस चाहे सब खो जाए,
मुझे उसे पाकर सब कुछ खोने का गम नहीं।

बहुत है शिकवा मुझसे कुछ लोगों को,
एक दिन हम सारे शिकवे दूर कर जायेंगे,
तड़प ज़िन्दगी से बंधी है मौत से नहीं,
एक दिन हम इस तड़प से आज़ाद हो जायेंगे।

हर काम किया मैंने उसकी ख़ुशी के लिए,
जाने तब भी क्यूँ बेवफा कहलाता हूँ,
मौत से पहले उसकी दीदार की ख्वाहिश है मेरी,
बस इसलिए ज़िन्दगी का साथ निभाता हूँ।

कैसा प्यार करते थे वो बस ये बात मतलब का है,
जीन मरना नहीं बात यहाँ प्यार के तलब का है,
अब जब वो ही नहीं इस प्यार के राह में साथ मेरे,
तो मेरे लिए जीना इस ज़िन्दगी में बेमतलब का है।

मौत माँगते है तो ज़िन्दगी खफा हो जाती है,
जहर लेते है तो वो भी दवा हो जाती है,
तु बता ऐ ज़िन्दगी तेरा क्या करू,
जिसको भी चाहा वो बेवफा हो जाती है।

ज़िन्दगी ज़ख्मो से भरी है वक्त को मरहम बनाना सीख लो,
हारना तो मौत के सामने है फ़िलहाल ज़िन्दगी से जीना सीख लो।

कब्र के सन्नाटे में से एक आवाज़ आयी,
किसी ने फूल रख के आँसू की दो बूंद बहायी,
जब तक था जिंदा तब तक ठोकर खायी,
अब सो रहा हूं तो उसको मेरी याद आयी।

Kafan Maut Shayari

जलोगे तुम भी तड़प में किसी से जब तुम्हे सच्चा प्यार होगा,
मेरे चिता की आग जब देखोगे तुम्हे प्यार का मेरे एहसास होगा।

आसमान के परे मुकाम मिल जाए,
खुदा को मेरा ये पैगाम मिल जाए,
थक गयी है धड़कनें अब तो चलते चलते,
ठहरे सांसे तो शायद आराम मिल जाए।

जिसकी याद में सारे जहाँ को भूल गए,
सुना है आजकल वो हमारा नाम तक भूल गए,
कसम खाई थी जिसने साथ निभाने की यारो,
आज वो हमारी लाश पर आना भूल गए।

ज़िंदगी इक हादसा है और कैसा हादसा,
मौत से भी ख़त्म जिस का सिलसिला होता नहीं।

जिसमे ज़िन्दगी लम्बी है वो उम्र मुझे नहीं चाहिए,
तुम अगर साथ नहीं मेरे तो वो संसार मुझे नहीं चाहिए।

वादे तो हजारों किये थे उसने मुझसे,
काश एक वादा उसने निभाया होता,
मौत का किसको पता कि कब आएगी,
पर काश उसने जिंदा दफनाया न होता।

दिल दे दिया था उसे फिर भी नहीं समझा उसने मेरे प्यार को,
शायद मेरे मौत की खबर से ही ख़ुशी मिल जाये मेरे यार को।

कितना और दर्द देगा बस इतना बता दे,
ऐसा कर ऐ खुदा मेरी हस्ती मिटा दे,
यूं घुट घुट के जीने से तो मौत बेहतर है,
मैं कभी न जागूं मुझे ऐसी नींद सुला दे।

Maut Shayari Girl

हमेशा ही ज़िन्दगी मुझ पर बेरहम ही रही है,
फिर भी मौत नहीं आई इससे बड़ी सजा मेरे लिए क्या होगी।

बादे-फना फिजूल है नामोनिशां की फिक्र,
जब हम नहीं रहे तो रहेगा मज़ार क्या?

जब मेरा जनाज़ा इस ज़माने से निकला,
मेरे जनाज़े को देखने सारा ज़माना निकला,
मगर मेरे जनाज़े में वो न निकले,
जिस के लिए मेरा जनाज़ा में निकला।

हमारी ज़िंदगी तो मुख़्तसर सी इक कहानी थी,
भला हो मौत का जिस ने बना रक्खा है,अफ़्साना।

मोहब्बत मुझे थी उसी से सनम,
यादों में उसकी यह दिल तड़पता रहा,
मौत भी मेरी चाहत को रोक न सकी,
कब्र में भी यह दिल धड़कता रहा।

मौत मांगते है तो ज़िन्दगी खफा हो जाती है जहर लेते है,
तो वो भी दवा हो जाती है,
तु बता ऐ ज़िन्दगी तेरा क्या करू जिसको,
भी चाहा वो बेवफा हो जाती है।

जब हुआ मेरे इश्क का एहसास उन्हें,
आकार वो पास सारा दिन रोते रहे,
हम भी निकले खुद-गरज इतने यारो,
कफ़न में आँख बंद किये सोते रहे।

Maut Ki Shayari

उसकी यादों ने मुझे पागल बना रखा है,
कहीं मर ना जाऊं कफ़न सिला रखा है,
मेरा दिल निकाल लेना दफ़नाने से पहले,
वो ना दब जाए जिसे दिल मे बसा रखा है।

खुशी आपके लिए गम हमारे लिए,
जिंदगी आपके लिए मौत हमारे लिए,
हँसी आपके लिए रोना हमारे लिए,
सबकुछ आपके लिए आप हमारे लिए।

मौत मांगते है तो ज़िन्दगी खफा होजाती है,
जहर लेते है तो वो भी दवा हो जाती है,
तु बता ऐ ज़िन्दगी तेरा क्या करू,
जिसको भी चाहा वो बेवफा हो जाती है।

मर कर तड़पूँगा तेरे इंतजार में,
आग ना बुझेगी इस दिले बेक़रार में,
अपना अलग मजा है इस इंतजार में,
मन मचलता है कदम रखते ही प्यार मे।

जिसकी सलामती के लिए मैं रखती रही व्रत,
और रातों को भूखे पेट सोती रही,
वो मौत से बहत्तर मेरी ज़िंदगी बना कर गया,
उसको मेरी ज़रा सी फिक्र भी ना रही।

तुमने क्या सोचा कि तुम्हारे सिवा कोई नही मुझे चाहने वाला,
तू छोङ कर तो देख मौत तैयार खड़ी है मुझे सीने से लगाने को।

मेरी मौत होगी तो याद रखना,
बहुत चाहने वाले तुम्हे वहां मिलेंगे,
बागो में तो कई फूल होते हैं,
तेरे मूरत पे चढाने वाले कहाँ मिलेंगे।

Mujhe Maut Chahiye 

प्यार में सब कुछ भुलाये बैठे हैं,
चिराग यादों के जलाये बैठे हैं,
हम तो मरेंगे उनकी ही यादों में,
यह मौत से शर्त लगाये बैठे हैं।

एक दिन हम भी कफ़न ओढ़ जायेंगे,
सब रिश्ते इस जमीन से तोड़ जायेंगे,
जितना जी चाहे सता लो तुम मुझे,
एक दिन रोता हुआ सबको छोड़ जायेंगे।

आसमान के परे मुकाम मिल जाए,
खुदा को मेरा ये पैगाम मिल जाए,
थक गयी है धड़कनें अब तो चलते चलते,
ठहरे ये सांसे तो शायद आराम मिल जाए।

क्या कहूँ तुझे ख्वाब कहूँ तो टूट जायेगा,
दिल कहूँ, तो बिखर जायेगा,
आ तेरा नाम ज़िन्दगी रख दूँ,
मौत से पहले तो तेरा साथ छूट न पायेगा।

होता नहीं यकीन उसके बिछड़ जाने का,
अब हमें इंतज़ार है बस उसके लौट आने का,
नहीं आया लौट कर तो हमने सोच रखा है,
इस दुनियां से दूर चले जाने का।

Meri Maut Death Shayari Girl

तेरे इश्क़ में मरना भी जीने से अच्छा है,
मान जाओ मेरा प्यार नादान कच्चा है,
नहीं समझ आता हमारा प्यार अगर,
एक बार दिल में झांको प्यारा एक बच्चा है।

ज़िन्दगी ज़ख्मो से भरी है वक्त को मरहम बनाना सीख लो,
हार नातो मौत के सामने है फ़िलहाल ज़िन्दगी से जीना सीख लो।

तूफ़ान है जिंदगी तो साहिल है तेरी दोस्ती,
सफ़र है मेरी जिंदगी मंजिल है तेरी दोस्ती,
मौत के बाद मिल जायेगी मुझे जन्नत,
जिंदगी भर रहे अगर कायम तेरी दोस्ती।

एक दिन हम भी कफ़न ओढ़ जायेंगे,
सब रिश्ते इस जमीन के तोड़ जायेंगे,
जितना जी चाहे सता लो मुझको,
एक दिन रोता हुआ सबको छोड़ जायेंगे।

जब तेरी नजरों से दूर हो जायेंगे हम,
दूर फिजाओं में कहीं खो जायेंगे हम,
मेरी यादों से लिपट कर रोने आओगे तुम,
जब जमीन को ओढ़ कर सो जायेंगे हम।

मोहब्बत के नाम पे दीवाने चले आते हैं,
शमा के पीछे परवाने चले आते हैं,
तुम्हें याद न आये तो चले आना मेरी मौत पर,
उस दिन तो बेगाने भी चले आते हैं।

Dard Maut Shayari

मेरे चहरे से कफन को हटा कर,
जरा दीदार तो कर लो,
ऐ बेवफा बंद हो गई है वो आंखे,
जिन्हे तुम रुलाया करते थे।

वादे तो हजारों किये थे उसने मुझसे,
काश एक वादा ही उसने निभाया होता,
मौत का किसको पता कि कब आएगी,
पर काश उसने जिन्दा न जलाया होता।

चंद साँसे बची हैं आखिरी दीदार दे दो,
झूठा सही एक बार मगर प्यार दे दो,
ज़िन्दगी तो वीरान थी पर मौत तो गुमनाम न हो,
मुझे गले लगा लो फिर मौत मुझे हज़ार दे दो।

जिसकी याद में सारे जहाँ को भूल गए,
सुना है आजकल वो हमारा नाम तक भूल गए,
कसम खाई थी जिसने साथ निभाने की यारो,
आज वो हमारी लाश पर आना भूल गए।

उम्मीद करते है की, आपको यह हमारा मौत पर शायरी आपको जरूर पसंद आया होगा। आप हमारा यह लेख अपने मित्रो के साथ साझा कर सकते है, और हमें कमेंट में बता सकते है आपको हमारा यह लेख कैसा लगा।

maut shayari in hindi
kafan maut shayari
maut shayari girl
maut ki shayari
mujhe maut chahiye shayari
meri maut death shayari girl
meri maut maut ki shayari
dard maut shayari
maut shayari hindi
maut sad shayari
very sad maut shayari girl
maut shayari in english
maut par shayari
maut wali shayari
maut ka intezar shayari
sad maut shayari
shayari on maut ki dua

Leave a Comment